मुख्य पृष्ठ » बॉस के साथ सेक्स स्टोरीज » नौकरानी के साथ लेस्बियन सेक्स


नौकरानी के साथ लेस्बियन सेक्स

Posted on:- 2022-02-20


नमस्कार साथियों, मेरा नाम प्रिया हैं और मैं बांद्रा की रहने वाली हूँ. बात कुछ 3 महीने पहले की हैं जब मैंने अपने घर की नौकरानी के साथ पहली बार जबरदस्त लेस्बियन सेक्स किया था. मैं लेस्बियन सेक्स की बड़ी प्यासी हूँ और मुझे पहले से ही लडको से ज्यादा लडकियों में दिलचस्पी रही हैं. उस दिन लेस्बियन सेक्स के मेरे संजोग किस्मत से ही बने थे. मैंने तनु को मोम की लिपस्टिक चुराते हुए देख लिया और उसे डरा धमका के उसे अपनी चूत चाटने पे मजबूर किया था. तनु कुछ 19 साल की हैं और वो कभी कबार अपनी माँ की जगह पे हमारे यहाँ काम करने आती थी. उसकी उभरी हुई गांड और सेक्सी चुंची देख के मेरा मन कितने ही दिनों से उसके साथ लेस्बियन करने को हो रहा था. लेकिन यह दुनिया अजीब हैं और ख़ास कर इंडिया में तो लेस्बियन लोगो को इतनी छुट नहीं हैं इसलिए मैं अपनी इस आग को अंदर ही अंदर दबा के बैठी हुई थी.

 

उस दिन मैंने एक लेस्बियन सेक्स की फिल्म देखी थी और मेरा इरादा शाम को मस्त हस्तमैथुन करने का था. मैं सीढियों पे बैठ के लेपटोप पे गेम खेल रही थी. तभी मैंने सीढ़ि के उपर बनती हलकी गेप से देखा की तनु मेरे माँ के कमरे में चोरो की तरह घुस रही थी. उसने मुझे नहीं देखा क्यूंकि जहाँ मैं बैठी थी वो हिस्सा उसकी नजर में नहीं आ रहा था. और ऐसे भी उसका ध्यान केवल निचे के फ्लोर पे लग रहा था. मैंने बिलकुल आवाज ना हो वैसे लेपटोप को रख के निचे का रास्ता नापा. मैंने मोम के रूम के दरवाजे के उपर धीरे से हाथ रख के दरवाजे को थोडा खोला और देखा की तनु कमरे में चोरो की नजर से इधर उधर देख रही थी. इसके पहले भी मोम ने एक दो बार चीजें गायब होने की बात की थी, लेकिन क्यूंकि तनु की माँ हमारे यहाँ पिछले कुछ दशक के काम कर रही थी इसलिए उन लोगो पे कोई शक करने वाला था ही नहीं. मैंने देखा की तनु ने वहाँ पड़ी लिपस्टिक उठाई और अपनी ब्लाउज के अंदर अपने चुंचे के उपर छिपा दी. मैंने फट से दरवाजा खोला और मुझे देख के उसके रंग उड़ गए. वो जानबूझ के कबाट के उपर से धुल उड़ाने का नाटक करने लगी. मैं उसके पास गई और सीधे उसके चुंचे पे हाथ रख के लीस्टिक निकाली.

 

 

मैंने जैसे ही लीस्टिक बहार निकाली तनु को पता चल गया की उसका क्या हसर होने वाला हैं. वो मेरे पाँव में पड़ के गिडगिडाने लगी. उसके मस्त बड़े चुंचे मेरे घुटनों को छू रहे थे. मैंने उसे माथा पकड़ के दूर किया. वो मुझे माँ को नहीं बताने के लिए गिदगिड़ा रही थी और आजिजी कर रही थी. जब मैंने उसके उभरे हुए चुंचे देखे मेरे मन में उसी वक्त उसके साथ लेस्बियन सेक्स करने की तमन्ना जाग उठी. मैंने उसे कहा, ठीक हैं मैं नहीं बताउंगी, पर तू मेरे साथ उपर मेरे कमरे में चल. मैंने लिपस्टिक तो वापस कबाट में रख दिया. तनु आंसू पोंछते हुए मेरे पीछे आई. मैंने सीढ़ि पर से लेपटोप लिया और तनु के अंदर आते हैं दरवाजे को बंध किया. मैंने उसे पलंग पे बिठाया और उसे कहा; चल कपडे उतार तेरे हम लेस्बियन करेंगे, साली. तनु के लिए लेस्बियन शायद बिलकुल नया वर्ड था. उसने मेरी तरफ देखते हुए कहा, बीबी जी मुझे नहीं पता आप क्या कह रही हैं. मैं समझ गई की साला डेमो देना पड़ेगा.

 

मैंने हेडफोन तनु के कान के उपर लगाये. अंदर के फोल्डर से मैंने एक ब्ल्यू फिल्म लगाई जिस में दो लडकियां चूत चाटने और बूब्स चूसने के काम में व्यस्त थी. तनु की आँखे इस लेस्बियन मूवी को देख चौंधियाने लगी. मैंने उसके ब्लाउज को खोल दिया और उसने अंदर पहनी हुई ब्रा को पीछे से हुक खोल के उतार फेंका. उसके घाघरे को भी मैंने फट से उतार दिया. तनु मेरी तरफ ऐसे देख रही थी जैसे की उसे लिपस्टिक की चोरी की बहुत ही बड़ी सजा मिल रही हो. मैंने धीरे से उसके कपडे उतारने चालू कर दिए, वो अभी भी मेरी चेष्टा से हेरान दिख रही थी, उसको पूरा नंगा करने के बाद मैं भी पूरी नंगी हो गई. अब मैंने अपने दोनों बूब्स के उपर हाथ रख दिए और एक बूब को तनु के मुहं में दे दिया. वो समझ गई की उसे क्या करना हैं. वो एक बूबी को मुहं में ले के चूस रही थी और उसी वक्त उसका हाथ दुसरे बूब को मसल रहा था. तनु को बूब्स में बीजी रखते हुए मैंने अपनी ऊँगली को थूंक से तर की और चूत में ऊँगली डाल के मैं कलाईटोरिस मसलने लगी. मुझे बहुत ही मजा आ रहा था, क्यूंकि मेरे चूत और बूब्स दोनों के अंदर ही उत्तेजना की लहर दौड़ रही थी. मैंने जोर जोर से चूत के अंदर ऊँगली की और अब एक साथ दो ऊँगली चूत में डाल के मैं हिल रही थी. तनु ने अब बूब्स की अदला बदली की और वो हाथ वाले बूब को मुहं में और मुहं वाले बूब को हाथ से मसलने लगी.

 

तनु ने मरे बूब्स को 10 मिनिट तक मस्त चूसा और साथ ही वो मेरी कमर के उपर भी हाथ फेर रही थी. मुझे लेस्बियन सेक्स का असीम मजा दे रही थी यह चोटती नौकरानी. तनु को अब मैंने निचे लिटा दिया और मैं खुद अपने चूत वाले भाग को उसके मुहं में देते हुए उसके उपर बिना दबाव डाले बैठ गई. तनु ने अपनी जबान मेरी चूत के होंठो पे रख दी और वो कुत्ते जैसे पानी पिते हैं वैसे लपलप जीभ से मेरी चूत को चाटने लगी. मैंने थोडा और जोर लगा के उसकी जबान को मेरी चूत के अंदर ले लिया. तनु ने तुरंत जबान से मेरी चूत की गहराई और कलाईटोरिस को मजे देना चालू कर दिया. तनु को पता था की चूत को कैसे मजे देते हैं, इसलिए मुझे उसे कुछ कहने या बताने की नौबत नहीं आई. मेरी चूत की आग को शांत करने में तनु को मुझे मदद करता देख मैंने भी झुक के उसकी चूत को जबान से सहलाया.

तनु के शरीर में जैसे करंट की लहर दौड़ गई, उसने कांपते हुए मेरी चूत को चाटना चालु रखा. अब मैंने भी उसकी चूत की गहराई में अपनी जबान डाल दी. मैंने कभी जबान को अंदर डीप तक ले जाती तो कभी हलके से उसके चूत के होंठो को सहलाती थी. मुझे ऐसा करते देख अब तनु भी मेरी चूत को ऐसे ही मजे देने लगी. इस नौकरानी को भी अब लेस्बियन के दाव समझ में आने लगे थे. मेरी चूत से अब बर्दास्त नहीं हो रहा था. मैंने उठ के तनु के मुहं को पकड़ के उसको मस्त चुम्मा दे दिया. हम दोनों की जबाने लड़ने लगी और मेरी चूत में जैसे की कुछ बहाव सा होने लगा. मेरी चूत से लावा छुट गया था और मुझे उसका नशा चढ़ रहा था. मैंने तनु की चूत में वापस मुहं डाला और उसकी चूत को मस्त चाट दिया. 2 मिनिट के बाद तनु की चूत ने भी नमकीन पानी छोड़ दिया. हम लोगो ने कपडे पहने और तनु कमरे में झाड़ू की एक्टिंग करती करती बहार चली गई.

उस दिन के बाद तो जैसे की तनु को भी लेस्बियन सेक्स का चस्का लग गया. वो आये दिनों मेरे कमरे में आती हैं और अपनी बुर चटवा के मुझे भी बुर चटवाने का अवसर दे जाती हैं. मैं तनु के लिए और भी कामुक लेस्बो विडिओ डाउनलोड करके उसे आगे के दाव बताती हूँ….अब मैंने उसे डिल्डो और वायब्रेटर भी बताया हैं जो मैं उसके साथ जल्द उपयोग करने वाली हू.

What did you think of this story??






अन्तर्वासना इमेल क्लब के सदस्य बनें


हर सप्ताह अपने मेल बॉक्स में मुफ्त में कहानी प्राप्त करें! निम्न बॉक्स में अपना इमेल आईडी लिखें, फिर ‘सदस्य बनें’ बटन पर क्लिक करें !


* आपके द्वारा दी गयी जानकारी गोपनीय रहेगी, किसी से कभी साझा नहीं की जायेगी।