मुख्य पृष्ठ » बीवी की चुदाई » बीवी और उसके पति को मोटे लंड से चोदा


बीवी और उसके पति को मोटे लंड से चोदा

Posted on:- 2021-08-31


आशा है की भाभी की चुदाई अच्छी चल रही होगी, मेरा नाम सात्विक गाँधी  है और में प्रयागगगन यदुवंशी   का रहने वाला हूँ, मेरी हाईट 4 फुट 7 इंच है और में प्रयागगगन यदुवंशी   के सिविल लिंनस  में रहता हूँ. आज में आपको जो कहानी सुनाने जा रहा हूँ. ये बात आज से करीब 15 दिन पहले की है, मुझे एक कपल का मैल आया कि हम आपके साथ चुदाई का मज़ा लेना चाहते है. अच्छा दोस्तों क्या आपने किसी लड़की को चोदा है सच्ची बताना.


मेरा नाम गगन यदुवंशी  है और मिरी बीवी का नाम स्मृति कुमारी  है, मेरी उम्र 35 साल है और मेरी बीवी की उम्र 28 साल है, हम जूनागढ़ में रहते है, लेकिन पहले आप अपना फोटो भेजे बाद में हम बताएगें और ये बात सिर्फ हमारे बीच में ही रहनी चाहिए. फिर मैंने भी उसको अपनी फोटो भेजी और उसको बोला कि ये बात सिर्फ हमारे बीच में ही रहेगी और उसको भी अपना फोटो भेजने को कहा. आप लॉप ने कभी न कभी तो किसी न किसी की गांड मरी ही होगी .


 क्या दोस्तों आपने कभी भाभी को चोदा है कितना मजा आया बताना जरा फिर उसने भी अपना फोटो भेजा, जिसमें गगन यदुवंशी  काफ़ी दुबला दिख रहा था और स्मृति कुमारी  की बॉडी मस्त थी, उसके बूब्स बड़े-बड़े और गोल-गोल थे, उसके लिप्स गुलाबी-गुलाबी थे और उसके बाल काले थे और उसने अपना मोबाइल नंबर भी भेजा था. मोटी गांड वाली लड़कियों की बात ही कुछ और है.


 क्या गजब चुदकड़ अंदाज थी फिर दूसरे दिन मैंने उसको करीब रात के 11 बजे मोबाईल किया, तो गगन यदुवंशी  ने फोन उठाया और अब स्मृति कुमारी  भी उसके पास ही सोई हुई थी. फिर हमने काफ़ी सेक्सी बातें की. फिर गगन यदुवंशी  ने कहा कि तुम्हारे लंड की साईज क्या है? तो मैंने कहा कि 8 इंच. लड़किया क्युआ गजब चुदकड़ होती है दोस्तों.


 मेरे मित्रगणों  क्या मॉल थी उसकी चुची पीकर मजा आ गया फिर वो बोला कि काफ़ी बड़ा है, स्मृति कुमारी  को बहुत मज़ा आएगा. तो उसने कहा कि स्मृति कुमारी  भी हमारी बातें सुन रही है, मैंने फ़ोन का स्पीकर ऑन किया हुआ है. फिर उसने कहा कि तुम्हें सेक्स में क्या पसंद है? तो मैंने कहा कि मुझे बूब्स को चूसने में और चूत को चूसने में ज़्यादा मज़ा आता है, तो तभी स्मृति कुमारी  ने कहा कि मुझे भी अपनी चूत को चुसवाने में बहुत मज़ा आता है, लेकिन गगन यदुवंशी  को ये पसंद नहीं है. मै एक नंबर का आवारा चोदा पेली करने वाला  लड़का हु मुझे लड़किया चोदना अच्छा लगता है.


 क्या दोस्तों आपने अपने बहन की चूची को दबाया है मैंने स्मृति कुमारी  से पूछा कि तुम्हारे बूब्स कैसे है? तो गगन यदुवंशी  ने जवाब दिया कि बहुत गोरे-गोरे और बड़े-बड़े है और उसकी निपल भी बड़ी है. फिर मैंने कहा कि फिर तो उसे चूसने में बड़ा मज़ा आएगा. अब हम रोज फ़ोन पर बातें करते थे. अब कभी वो फ़ोन करता, तो कभी में फोन करता था. अब 2-3 दिनों में हम अच्छे फ्रेंड हो गये थे. मेरे प्यारे दोस्तो चुची पिने का मजा ही कुछ और है.


 ये कहानी पढ़ कर आपका लंड खड़ा नहीं हुआ तो बताना  लड खड़ा ही हो जायेगा  एक रविवार को उसने मुझे इन्वाइट किया और वो बोला कि तुम होटल में ठहरना और हम दोनों वहाँ पर आ जाएगें, शायद उसे अभी भी मुझ पर विश्वास नहीं था, तो मैंने कहा कि ठीक है. फिर में रविवार को करीब दोपहर 12 बजे जूनागढ़ पहुँचा. अब गगन यदुवंशी  मुझे रिसीव करने आया था. फिर हमने एक टू स्टार होटल में रूम बुक कराया और उसने कहा कि हम 1 घंटे बाद आएँगे. तो मैंने कहा कि ठीक है और में स्नान करने चला गया. फिर में नीचे होटल से एक ब्रेड का पैकेट और जैम ले आया और फिर मैंने नाश्ता किया. मेरे मित्रगणों  चुत छोड़ने के बाद सुस्ती सी आ जाती है    .


 क्या बताऊ मेरे मित्रगणों   उसको देखकर किसी लैंड टाइट हो जाये  1 घंटे के बाद डोरबेल बजी तो मैंने दरवाजा खोला, तो बाहर गगन यदुवंशी  और स्मृति कुमारी  थे. स्मृति कुमारी  बहुत ही खूबसूरत थी, उसने स्लीवलेस ब्लाउज और पारदर्शी साड़ी पहनी थी और उसमें से उसकी गहरी-गहरी नाभि साफ-साफ दिख रही थी. फिर मैंने गगन यदुवंशी  के साथ हाथ मिलाया और स्मृति कुमारी  के गाल पर किस किया, क्या सॉफ्ट गाल थे? अब मेरा लंड तो पूरा टाईट हो गया था. मेरे मित्रगणों  मने बहुत सी भाभियाँ चोद राखी है.


 मेरे मित्रगणों  क्या मलाई वाला माल लग रहा था     फिर गगन यदुवंशी  टॉयलेट करने चला गया, तो तभी मैंने स्मृति कुमारी  को पीछे से अपनी बाँहों में भर लिया. अब मेरा लंड उसकी गांड के साथ रगड़ने लगा था और पीछे से उसके गले पर और पीठ पर किस करने लगा था. चुदाई की कहानी जरूर सुनना चाहिए मजे के लिए.


 साथियो की पुराणी मॉल छोड़ने का मजा ही कुछ और है फिर थोड़ी देर में ही भाभी गर्म हो गयी, तो तभी गगन यदुवंशी  टॉयलेट से निकला और वो भी स्मृति कुमारी  को आगे से किस करने लगा. फिर मैंने अपना एक हाथ आगे करके स्मृति कुमारी  के ब्लाउज के बटन खोल दिए और उसका ब्लाउज निकाल दिया. अब उसकी पीठ पूरी नंगी थी और अब में उसकी पूरी पीठ पर किस करने लगा था और अपना एक हाथ आगे करके उसके बूब्स दबाने लगा था. अब सुनिए चुदाई की असली कहानी.


 मेरे मित्रगणों  एक बार चोदते  चोदते  मेरा लंड घिस गया फिर गगन यदुवंशी  ने उसकी साड़ी और पेटीकोट को निकाल दिया. अब स्मृति कुमारी  सिर्फ पेंटी और ब्रा में ही थी और अब वो गर्म हो चुकी थी. फिर उसने मेरे कपड़े निकाल दिए और मेरा लंड देखकर बोली कि कितना बड़ा और मोटा लंड है, आज मज़ा आएगा, इसके लिए तो में कब से तरस रही थी? फिर उसने गगन यदुवंशी  के कपड़े भी निकाल दिए. वहा का माहौल बहुत अच्छा था  मेरे .  

 मेरे मित्रगणों  उस लड़की मैंने चुत का खून निकल दिया गगन यदुवंशी  का लंड 6 इंच लंबा और दुबला था. फिर मैंने स्मृति कुमारी  की ब्रा खोल दी, क्या गोरे-गोरे बूब्स थे? अब में तो उसके बूब्स दबाने लगा था और उसके बूब्स बिल्कुल मखमल जैसे थे. फिर गगन यदुवंशी  ने उसकी पेंटी निकाल दी. वहा जबरजस्त माल भी थी मेरे मित्रगणों . 


 मेरे मित्रगणों  चोदते चोदते चुत का भोसड़ा बन गया  मैंने स्मृति कुमारी  को अपने हाथों में उठाकर बिस्तर पर लेटा दिया और उसके बूब्स पर जैम लगाई और उसे चाटने लगा. अब स्मृति कुमारी  तो पूरी तरह से गर्म हो गयी थी और आवाजे निकाल रही थी और चूसो मेरे डार्लिंग, मेरे पूरे बूब्स को चूस लो और वो खुद अपने बूब्स पर जैम लगा रही थी और में उसे चाट रहा था. ऐसे माहौल कौन नहीं रहना चाहेगा मेरे मित्रगणों  .


 मेरे मित्रगणों  एक बार मैंने अपने गांव के लड़की जबरजस्ती चोद दिया  गगन यदुवंशी  ने मेरे लंड पर जैम लगाई और उसे चाटने लगा और बोला कि क्या मजेदार लंड है? और उसने मेरा गुलाबी सुपाड़ा अपने मुँह में डाल दिया और जैम को चाटने लगा. फिर स्मृति कुमारी  ने अपनी चूत पर जैम लगाया और में उसकी चूत को चाटने लगा. वाह जैम और चूत दोनों का क्या स्वाद आ रहा था? अब स्मृति कुमारी  बार-बार जैम लगा रही थी और में चाट रहा था और गगन यदुवंशी  मेरा लंड चूस रहा था, क्या मज़ा आ रहा था? उह क्या मॉल था मेरे मित्रगणों  गजब .


 मेरा तो मन ही ख़राब हो जाता था मेरे मित्रगणों   फ़िर गगन यदुवंशी  स्मृति कुमारी  के ऊपर कुत्ते की तरह चढ़ गया और उसके बूब्स चाटने लगा. फिर मैंने उसकी गांड पर जैम लगाई और उसकी गांड को चाटने लगा, उसकी गांड गुलाबी और बहुत सॉफ्ट थी. अब उसे भी बहुत मज़ा आ रहा था और बोल रहा था कि गगन यदुवंशी  और चाटो मेरी गांड को और मेरी गांड में अपना लंड घुसा दो. फिर मैंने अपना लंड उसकी गांड में घुसा दिया, उसकी गांड बहुत टाईट थी. अब पहले तो सिर्फ मेरा सुपड़ा ही घुसा था, लेकिन फिर मैनें 2-3 धक्के दिए तो मेरा पूरा लंड घुस गया. अब में गगन यदुवंशी  की गांड मार रहा था और स्मृति कुमारी  गगन यदुवंशी  का लंड चूस रही थी. क्या बताऊ मेरे मित्रगणों  मैंने चुदाई हर लिमिट पार कर दिया.


 कुछ भी  हो माल एक जबरजस्त था  फिर थोड़ी देर में ही गगन यदुवंशी  ने अपना पानी स्मृति कुमारी  के मुँह में निकाल दिया. फिर मैंने स्मृति कुमारी  के पूरे बदन पर जैम लगाया और उसके पूरे बदन को चाटा, पहले बूब्स को चाटने लगा और धीरे-धीरे उसकी निपल को चाटने लगा और फिर उसके गोरे-गोरे पेट को चाटा और फिर उसकी गहरी-गहरी नाभि पर अपनी जीभ फैरने लगा और फिर उसकी चूत को पूरा अपने मुँह में ले लिया और अपनी जीभ उसकी चूत पर रगड़ने लगा. अब स्मृति कुमारी  से रहा नहीं जा रहा था तो उसने कहा कि सात्विक गाँधी  अब अपना पूरा लंड मेरी चूत में घुसा दो, अब मुझसे नहीं रहा जाता है. उसको देखकर  किसी का मन बिगड़ जाये .


 मेरे मित्रगणों  मैंने किसी भाभी को छोड़ा नहीं है  मैंने अपना लंड उसकी चूत में डाल दिया और उसके लिप्स को अपने मुँह में लेकर धक्के देने लगा. अब में मेरा पूरा लंड उसकी चूत में डाल और निकाल रहा था और वो हर बार अपने मुँह से आवाजे निकाल रही थी आहह उहह और डालो मेरी जान. उह भाई साहब की माल है उसकी चुत की बात ही कुछ और है.


 मेरे मित्रगणों  एक बार स्कूल में चुदाई कर दिया बड़ा मजा आया फिर करीब 1 घंटे तक हमारी चुदाई चली और अब हम दोनों पसीना-पसीना हो गये थे. फिर स्मृति कुमारी  झड़ गयी और उसके मुँह से आवाज निकली आहह. फिर में ज़ोर-ज़ोर से धक्के देने लगा तो मैंने भी अपना पानी स्मृति कुमारी  की चूत में ही छोड़ दिया. मेरे मित्रगणों  चोदते  चोदते  कंडोम के चीथड़े मच गए.


 ओह्ह उसके यह का चुम्बन की तो बात अलग है फिर हमने अपने-अपने कपड़े पहन लिए और बातें करने लगे. फिर गगन यदुवंशी  ने कहा कि यार तुम पूरे 1 घंटे तक कैसे चुदाई कर सकते हो? में तो 15 मिनट तक ही कर पाता हूँ. फिर हम ऐसे ही बातें करते रहे और शाम के करीब 7 बजे हम तीनों अलग हो गये और कहा कि फिर किसी दिन फिर से प्रोग्राम बनाएँगे और अभी भी उसके फोन आते है और हम सेक्सी बातें करते है और बहुत इन्जॉय करते है. एक बार मैंने अपने मौसी की लड़की को जबरजस्ती चोद दिया मेरे मित्रो मामा की लड़की की चुदाई में बड़ा मजा आया.

What did you think of this story??


अन्तर्वासना इमेल क्लब के सदस्य बनें


हर सप्ताह अपने मेल बॉक्स में मुफ्त में कहानी प्राप्त करें! निम्न बॉक्स में अपना इमेल आईडी लिखें, फिर ‘सदस्य बनें’ बटन पर क्लिक करें !


* आपके द्वारा दी गयी जानकारी गोपनीय रहेगी, किसी से कभी साझा नहीं की जायेगी।